आतंकी दिल्ली में सरकारी इमारत को बना सकते हैं निशाना

आतंकी दिल्ली में सरकारी इमारत को बना सकते हैं निशाना
Spread the love

खुफिया विभाग को दिल्ली में आतंकी हमले के इनपुट्स मिले हैं। पाकिस्तान से आई कॉल के बाद खुफिया विभाग को दिल्ली में आतंकियों के घुसने व आतंकी हमले के मिले इनपुट्स बहुत ही गंभीर हैं। देश की सुरक्षा एजेंसियों समेत दिल्ली पुलिस इन आतंकी हमले के इनपुट्स को बहुत ही गंभीरता से ले रही है।

दिल्ली में बॉर्डरों समेत सभी जगहों पर सुरक्षा को कड़ा कर दिया गया है। दिल्ली पुलिस आयुक्त ने सुरक्षा व्यवस्था को लेकर बैठक बुलाई हैं। इस बैठक में सभी जिला व यूनिटों के प्रमुखों को उपस्थित रहने को कहा है। वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए ये बैठक होगी। स्पेशल सेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तान की तरफ से भारत में एक कॉल आई है। इन कॉल को इंटरसेप्ट करने पर पता लगा कि आतंकी संगठन दिल्ली में आतंकी हमले की साजिश रच रहे हैं। इनपुट्स में कहा गया है कि जम्मू कश्मीर की तरफ से तीन से चार आतंकी दिल्ली में घुस चुके हैं। इनके पास हथियार भी है।

स्पेशल सेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सिर्फ आतंकी हमले के इनपुट्स है। आतंकियों के हुलिया, उनकी कार नंबर या किस संगठन के ये कुछ पता नहीं हैं। ये पुलिस के सामने बहुत ही बड़ी चुन्नौती है। खुफिया विभाग का कहना है कि आतंकी किसी बड़ी वीआईपी सरकारी इमारत व कार्यालय पर आतंकी हमला कर सकते हैं। इसके अलावा मॉल, भीड़भाड़ वाले बाजार व बड़े होटल आतंकियों के निशाने पर हैं।

दिल्ली पुलिस इन आतंकी हमलों के इनपुट्स को बहुत ही गंभीरता से ले रही हैं। सभी जिला व अन्य यूनिटों ने आतंकी वारदात को रोकने के लिए कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। दिल्ली पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने 27 जून को सभी पुलिस अफसरों की क्राइम रिव्यू बैठक बुलाई है। मीटिंग के लिए भेजे गए एजेंडे में आतंकी हमले के इनपुट्स को भी रखा गया है।

मीटिंग में महत्वपूर्ण बिल्डिंग की सुरक्षा, मॉक ड्रिल, बॉर्डरों पर सुरक्षा, किराएदारों का पुलिस वेरीफिकेशन, सेकंड हैंड कार डीलर, साइबर कैफे की चेङ्क्षकग और मॉल व बाजारों की सुरक्षा की रिव्यू किया जाएगा। दिल्ली पुलिस ने सबसे ज्यादा धार्मिक स्थलों के सामने भी सुरक्षा बढ़ा दी है और धार्मिक स्थलों को हर रोज चेक किया जा रहा है।

 

Right Click Disabled!