इशरत जहां ने जांच के लिए अतिरिक्त 60 दिन की मोहलत को दी चुनौती

इशरत जहां ने जांच के लिए अतिरिक्त 60 दिन की मोहलत को दी चुनौती
Spread the love

हाईकोर्ट ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली दंगों की जांच के लिए अतिरिक्त 60 दिन का समय दिए जाने को कांग्रेस की पूर्व निगम पार्षद इशरत जहां ने हाईकोर्ट में चुनौती दी है। हाईकोर्ट ने इस याचिका पर दिल्ली सरकार से जवाब मांगा है। दिल्ली पुलिस ने इशरत के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम कानून (यूएपीए) के तहत मामला दर्ज किया था। इशरत को पुलिस ने 26 फरवरी को गिरफ्तार किया था।

न्यायमूर्ति सुरेश कुमार कैत की एकल पीठ ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से सुनवाई करते हुए दिल्ली सरकार से जवाब मांगा और 10 दिनों के भीतर लिखित दलीलें पेश करने का भी निर्देश दिया। वहीं पीठ ने इशरत जहां के वकील को भी लिखित दलीलें और कुछ अतिरिक्त दस्तावेज पेश करने की अनुमति दी। पीठ ने अगली सुनवाई के लिए 7 जुलाई की तारीख तय की है। याचिका में इशरत जहां ने निचली अदालत के 15 जून के उस फैसले को चुनौती देते हुए खारिज करने की मांग की है। याचिका में कहा गया है कि इशरत और खालिद सैफी के खिलाफ जांच पूरी करने के लिए दिल्ली पुलिस को अतिरिक्त 60 दिन का समय दिया गया जो गलत था।

पुलिस ने जांच के लिए अतिरिक्त समय मांगते हुए अदालत को बताया था कि खालिद ने इस्लामी उपदेशक एवं भगोड़े जाकिर नायक सहित कई अन्य लोगों से विदेश में मुलाकात की थी ताकि उनके एजेंडे को फैलाने के लिए धन मिल सके। इशरत को किसी गुप्त माध्यम से और खालिद सैफी को पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के अलावा विदेशों से भी अवैध धन मिला था।

 

Right Click Disabled!