खुशखबर: कोरोना कवच पॉलिसी

खुशखबर: कोरोना कवच पॉलिसी
Spread the love

बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण (इरडा) ने बीमा कंपनियों को डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना कवच प्रीमियम पर पांच फीसदी छूट देने को कहा है। नियामक ने यह भी सुनिश्चित करने को कहा है कि अस्पताल पॉलिसी शर्तों के अनुरूप बीमित व्यक्ति के नकद रहित (कैशलेस) इलाज से इनकार नहीं करे।

इरडा के निर्देश पर सभी 30 साधारण और स्वास्थ्य बीमा कंपनियां जो स्वास्थ्य बीमा देती हैं, कोविड केंद्रित स्वास्थ्य पॉलिसी देना शुरू कर दिया है। इसे कोरोना कवच कहा जाता है। इरडा ने एक विज्ञप्ति में कहा कि, ‘कोरोना वायरस के खिलाफ अभियान में स्वास्थ्य क्षेत्र ने जो योगदान दिया है, उसको देखते हुए बीमा कंपनियां कोरोना कवच के लिये डॉक्टरों और अन्य स्वासथ्यकर्मियों को पांच फीसदी छूट देंगी।’

एक अन्य बयान में इरडा ने कहा कि कुछ रिपोर्ट में अस्पतालों द्वारा मरीजों को बीमा पॉलिसी के बावजूद कोविड-19 के इलाज के लिये ‘कैशलेस’ सुविधा नहीं देने की बात कही गयी है। नियामक ने कहा कि पॉलिसीधारक संबंधित बीमा कंपनी/टीपीए के नेटवर्क में शामिल सभी अस्पतालों में ‘कैशलेस’ इलाज के हकदार हैं। इरडा ने बीमा कंपनियों को यह सुनिश्चित करने को कहा है कि अस्पताल पॉलिसी शर्तों के अनुरूप बीमित व्यक्ति के कैशलेस इलाज से इनकार नहीं करे।

 

 

 

Right Click Disabled!