बलविंदर सिंह संधू ने जताई इच्छा

बलविंदर सिंह संधू ने जताई इच्छा
Spread the love

कपिल देव की कप्तानी वाली 1983 विश्व कप की विजेता टीम के लिए इस साल का 25 जून बेहद अहम होने वाला था। टीम के सभी सदस्यों को उम्मीद थी कि जो जौहर उन्होंने 37 साल पहले इंग्लैंड के मैदानों पर दिखाया था उसका दीदार रुपहले पर्दे पर आज की युवा पीढ़ी कर सकेगी, लेकिन कोरोना ने 83 कि विजेताओं के इन अरमानों को पूरा नहीं होने दिया। इस विश्व कप के फाइनल में वेस्टइंडीज के गोर्डन ग्रीनिज का पहला और अहम विकेट अपनी इनस्विंग से चटकाने वाले मुंबईकर बलविंदर सिंह संधू खुलासा करते हैं कि फिल्म 83 जब भी आएगी तो सिनेमा घरों के बड़े पर्दें पर ही आएगी। स्थितियां सामन्य होने के लिए चाहें दो साल क्यों न इंतजार करना पड़े, लेकिन फिल्म सिनेमा घरों में ही रिलीज होगी।

 

Right Click Disabled!