बिना लक्षण वाले मरीज रहे सुपर स्प्रेडर

बिना लक्षण वाले मरीज रहे सुपर स्प्रेडर
Spread the love

गोमती नगर के विपुल खंड निवासी ठेकेदार में किसी तरह के लक्षण नहीं थे। परिवार में वही आमतौर पर बाहर निकलते थे। लेकिन जब जांच हुई तो ठेकेदार सहित उनके परिवार के 14 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है।

जॉपलिंग मार्ग निवासी गैरेज चलाने वाले के परिवार के भी ज्यादातर लोग घर में ही रहते थे। सिर्फ  गैरेज संचालक ही बाहर निकलता था। गहरा संचालक के पॉजिटिव आने के बाद उसके परिवार की जांच  हुई तो 17 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।लखनऊ में बिना लक्षण वाले मरीज अब सुपर स्प्रेडर बन गए हैं। इनसे विभिन्न इलाकों में तेजी से संक्रमण फैल रहा है। स्वास्थ्य विभाग इसे रोकने में नाकाम है। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग की चुनौतियां बढ़ती जा रही हैं। राजधानी में पॉजिटिव मरीजों की संख्या करीब 3000 के आसपास पहुंच गई है। जुलाई में कई दिनों से डेढ़ सौ के आसपास मरीज मिल रहे हैं।

 

 

Right Click Disabled!