राहुल की वापसी की पटकथा है फेरबदल

राहुल की वापसी की पटकथा है फेरबदल
Spread the love

कांग्रेस के भीतर जारी सागर मंथन के नतीजे आने शुरू हो गए हैं। एक बड़े सांगठनिक फेरबदल से इसका संकेत मिल गया कि पिछले दिनों कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को पार्टी के 23 बड़े नेताओं ने बदलाव के लिए जो पत्र लिखा था उसके बाद से सबकुछ ठीक नहीं है। बता दें कि पत्र विवाद के बाद कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में एक मत से कांग्रेस अध्यक्ष को संगठन और कार्यसमिति के पुनर्गठन का अधिकार दिया गया था।

उसका संज्ञान लेते हुए सोनिया गांधी ने एक तरफ यह संदेश देने की कोशिश की है कि पत्र बम फोड़ने वाले जी-23 के नेताओं के प्रति नेतृत्व में कोई दुर्भावना नहीं है। वहीं दूसरी ओर बेहद चतुराई से पत्र मुहिम के अगुआ नेताओं के पर तो कतरे गए लेकिन साथ ही कुछ मरहम भी लगाया गया है। साथ ही इस फेरबदल से साफ है कि राहुल गांधी के करीबियों पर नेतृत्व ने फिर भरोसा किया है और एक तरह से अगले कांग्रेस अधिवेशन में राहुल गांधी के दोबारा अध्यक्ष बनने की पटकथा लिखनी शुरू हो गई है।

 

Right Click Disabled!