वैक्सीन बनाने में जल्दबाजी हो सकती है घातक

वैक्सीन बनाने में  जल्दबाजी हो सकती है घातक
Spread the love

कोरोना वायरस महामारी का टीका बनाने के लिए दुनियाभर में होड़ मची हुई है। हर देश जल्द से जल्द कोरोना का टीका बनाना चाहता है। कई देशों ने इसका ट्रायल भी शुरू कर दिया है। लेकिन कोरोना का टीका बनाने में की गई जल्दी घातक साबित हो सकती है। चिकित्सा विशेषज्ञ इसको लेकर चिंतित हैं।

चिकित्सा विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि समय से पहले वैक्सीन जारी करना नुकसान पहुंचा सकता है। 1955 में पोलियो की वैक्सीन बनाने में जल्दबाजी दिखाई गई थी। इससे बेहतर नतीजे तो नहीं मिले, बल्कि बड़े स्तर पर वैक्सीन निर्माण में गड़बड़ी के कारण 70 हजार बच्चे पोलियो की चपेट में आ गए थे। इस टीके से 10 बच्चों की मौत हो गई थी। न्यूयॉर्क के बेलेव्यू हॉस्पिटल के पीडियाट्रिक रेजिडेंट डॉक्टर ब्रिट ट्रोजन के मुताबिक, इस वजह से कोरोना वैक्सीन को लेकर लोगों में संदेह बढ़ सकता है। साथ ही डॉक्टरों के प्रति भरोसा भी कम हो सकता है।

 

Right Click Disabled!