मास्क न लगाने पर एएसआई निलंबित

मास्क न लगाने पर एएसआई निलंबित

मास्क नहीं लगाना दिल्ली पुलिस के एएसआई को भारी पड़ गया है। चौथी बटालियन में तैनात एएसआई बिना मास्क के गुजर रहा था। इस बीच पुलिस उपायुक्त सत्यवीर कटारा की उस पर नजर पड़ी तो वह आगबबूला हो गए।

डीसीपी ने मास्क नहीं लगाने की वजह पूछी तो एएसआई ने गर्मी होने और मास्क लगाकर सांस न आने की बात की। पुलिस उपायुक्त ने सख्त कदम उठाते हुए तत्काल प्रभाव से एएसआई को निलंबित कर दिया। आदेश के बाद फौरन एएसआई से सारा सामान भी जमा करने के लिए कह दिया गया।
एएसआई को अब रोजाना लाइन में रिपोर्ट करने का आदेश दिया गया है। इसको लेकर महकमे में तमाम चर्चाएं हो रही हैं। निचले स्टाफ का कहना है कि पुलिस उपायुक्त एएसआई पर जुर्माना भी लगा सकते थे। इतनी छोटी सी वजह के लिए सस्पेंड करना ठीक नहीं था। उन्हे यह ज्यादती लग रही है।
पुलिस सूत्रों के मुताबिक, कार्रवाई एक जून को हुई। 1997 में दिल्ली पुलिस में भर्ती हुए एएसआई को सस्पेंड कर उनसे वर्दी, आईकार्ड और सभी सरकारी सामान जमा कराने के लिए कहा गया है। एक तरफ भले ही कुछ पुलिस कर्मी इस कार्रवाई को सख्ती मान रहे हैं लकेिन  कुछ अधिकारियों ने मास्क न पहनने पर हुई इस कार्रवाई को सही ठहराया है।

उनका कहना है कि पिछले दिनों कोरोना डीएपी के बैरक में पहुंच गया था। उसके बाद बैरक को सील कर दिया गया था। तभी से पूरी चौथी बटालियन के अलावा सभी को बेहद गंभीरता से दिशा-निर्देशों का पालन करने के लिए कहा गया। इस वजह से सख्त कार्रवाई एकदम ठीक हुई है।

पुलिस मुख्यालय के कुछ जवानों का कहना है कि ऐसी कार्रवाई से पुलिसकर्मियों का मनोबल गिरेगा। ऐसे समय में जवान अपनी जान पर खेलकर ड्यूटी कर रहे हैं। नियम के अनुसार 200 रुपये जुर्माना लगाकर एएसआई को छोड़ा जा सकता था।

 

Spread the love
Right Click Disabled!