आंदोलन में 700 किसानों की हुई मौत

आंदोलन में 700 किसानों की हुई मौत
Spread the love

शिवसेना सांसद संजय राउत ने दावा किया कि तीन विवाद कृषि कानूनों के खिलाफ साल भर के विरोध के दौरान 700 से अधिक किसानों की मौत हो गई। संजय राउत ने मांग की कि मृतक के परिजनों को पीएम केयर्स फंड से वित्तीय सहायता दी जाए। प्रधानमंत्री नरेंद्र ने दो दिन पहले ही तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करने की घोषणा की थी।

राउत बोले- पीएम केयर्स फंड में है बेहिसाब पैसा
मुंबई में पत्रकारों से बात करते हुए राउत ने दावा किया कि दिल्ली के पास विरोध स्थल पर कई किसानों की मौत हो गई, जबकि कुछ ने आत्महत्या कर ली और अन्य पुलिस फायरिंग में मारे गए। लखीमपुर खीरी में कुछ की कुचलकर हत्या कर दी गई। उन्होंने कहा कि ये सभी कृषि कानूनों का विरोध कर रहे थे।

राउत ने कहा कि सरकार को अब अपनी गलती का अहसास हो गया है और उसने कृषि कानूनों को वापस ले लिया है। देश के विभिन्न हिस्सों से मांग है कि जान गंवाने वाले किसानों के परिजनों को आर्थिक मुआवजा दिया जाए। राउत ने कहा कि पीएम केयर्स फंड में बेहिसाब पैसा पड़ा है, इस पैसे का इस्तेमाल मृतक किसानों के परिजनों के लिए अनुग्रह राशि के रूप में किया जाना चाहिए।

 

Advertisement
Right Click Disabled!