आर्थिक संकट में फंसे श्रीलंका के दौरे पर चीन के विदेश मंत्री

आर्थिक संकट में फंसे श्रीलंका के दौरे पर चीन के विदेश मंत्री
Spread the love

चीन के कर्ज के दुष्चक्र में फंसे श्रीलंका का विदेशी मुद्रा भंडार महीने भर के आयात के लिए भी पर्याप्त नहीं है। 27 दिसंबर को यह 1.58 अरब डॉलर रह गया था। इस मुसीबत से निपटने के लिए श्रीलंका के केंद्रीय बैंक ने शनिवार को एक तरफ 6.69 टन के स्वर्ण भंडार में से 3.6 टन को बेचने का फैसला किया है।

श्रीलंका के सामने बने मुश्किल हालात के बीच चीन के विदेश मंत्री का दो दिन के दौरे पहुंचना कई भू-राजनैतिक संभावनाओं को जन्म देता है। खासतौर पर जब चीन के कुख्यात विस्तारवादी रवैये के चलते श्रीलंका पहले ही कई संपत्तियां चीन को गिरवी रख चुका है।

श्रीलंका की सरकार की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक चीन के विदेश मंत्री वांग यी शनिवार को दो दिवसीय यात्रा पर श्रीलंका पहुंचें। उनका यह दौरा दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंधों की 65वीं वर्षगांठ से जुड़ा है। इस दौरान दोनो देशों के शीर्ष नेतृत्व में कई मुद्दों पर चर्चा होगी।

श्रीलंका के विदेश सचिव जयनाथ कोलंबेज ने बताया कि मालदीव से होते हुए श्रीलंका पहुंच रहे वांग श्रीलंका यात्रा के दौरान राष्ट्रपति गोतबाया राजपक्षे, प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे और विदेश मंत्री जीएल पेइरिस से मुलाकात करेंगे।

 

Advertisement
Right Click Disabled!