सैयद मुश्ताक अली : तमिलनाडु को हराकर कर्नाटक ने जीता खिताब

सैयद मुश्ताक अली : तमिलनाडु को हराकर कर्नाटक ने जीता खिताब

कप्तान मनीष पांडे की नाबाद अर्धशतकीय पारी और आफ स्पिनर कृष्णप्पा गौतम के आखिरी चार गेंदों के कमाल से मौजूदा चैंपियन कर्नाटक ने एक बेहद रोमांचक फाइनल में रविवार को यहां तमिलनाडु को एक रन से हराकर सैयद मुश्ताक अली टी20 टूर्नामेंट का खिताब जीता। दरअसल, तमिलनाडु के सामने 181 रन का लक्ष्य था लेकिन उसकी टीम छह विकेट पर 179 रन ही बना पाई। उसकी तरफ से विजय शंकर ने 44 और बाबा अपराजित ने 40 रन बनाए। कर्नाटक ने पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने पर पांच विकेट पर 180 रन बनाए। उसकी तरफ से कप्तान मनीष पांडे ने 45 गेंदों पर 60 रन बनाए जबकि रोहन कदम ने 35 और देवदत्त पडि्डकल ने 32 रन का योगदान दिया। तमिलनाडु की तरफ से रविचंद्रन अश्विन और मुरूगन अश्विन ने दो-दो विकेट लिए। कर्नाटक ने इससे पहले विजय हजारे ट्राफी के फाइनल में भी तमिलनाडु को हराकर खिताब जीता था। तमिलनाडु ने बड़े स्कोर के सामने नियमित अंतराल में विकेट गंवाए। सी हरि निशांत (14), एम शाहरूख खान (16) और कप्तान दिनेश कार्तिक (20) रन गति के दबाव में बड़े शाट खेलने के प्रयास में विकेट गंवाए। कृष्णप्पा गौतम ने सेमीफाइनल के नायक वाशिंगटन सुंदर (24) को बोल्ड करके तमिलनाडु को बड़ा झटका दिया। अपराजित और विजय शंकर ने इसके बाद जिम्मा संभाला ओर सात ओवरों में 71 रन जोड़कर तमिलनाडु की उम्मीद बनाए रखी। जब तमिलनाडु को 18 गेंदों पर 30 रन की दरकार थी तब अपराजित आउट हो गए। तमिलनाडु को आखिरी ओवर में 13 रन चाहिए थे। रविचंद्रन अश्विन (नाबाद 16) ने गौतम की पहली दो गेंदों पर चौके लगाए। अब चार गेंदों पर पांच रन चाहिए थे लेकिन गौतम ने इस बीच केवल तीन रन दिए। इस बीच विजय शंकर पांचवीं गेंद पर रन आउट हो गए। आखिरी गेंद पर तीन रन चाहिए थे लेकिन उस पर केवल बाई का एक रन मिला। इससे पहले केएल राहुल (22) और पडि्डकल ने पहले विकेट के लिये 39 रन जोड़कर कर्नाटक को अच्छी शुरुआत दिलाई। आर अश्विन ने हालांकि राहुल और मयंक अग्रवाल (शून्य) को लगातार गेंदों पर आउट कर दिया।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Right Click Disabled!