सहयोगी के तौर पर अमेरिका की जरूरत

सहयोगी के तौर पर अमेरिका की जरूरत
Spread the love

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने शुक्रवार को भारत के साथ करीबी संबंध बनाए रखने का आग्रह किया और चीन को चेतावनी दी। पोम्पियो ने टोक्यो में इस हफ्ते की शुरुआत में भारत, जापान और ऑस्ट्रेलिया के अपने समकक्षों के साथ हुई बैठक के बाद कहा, ‘उन्हें इस लड़ाई में संयुक्त राज्य अमेरिका को अपना सहयोगी और साझेदार बनाने की आवश्यकता है।’

पोम्पियो ने रेडियो होस्ट लैरी ओ कोन्नोर से कहा, ‘चीन ने अब उत्तर में भारत के खिलाफ बड़ी ताकतों को एकजुट करना शुरू कर दिया है। दुनिया जाग गई है। ज्वार शुरू हो गया है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के नेतृत्व में संयुक्त राज्य अमेरिका ने एक ऐसा गठबंधन बनाया है जो खतरे के खिलाफ खड़ा रहेगा।’टोक्यो में हुई बैठक के बाद पोम्पियो अपने भारतीय समकक्ष के साथ वार्षिक वार्ता के लिए रक्षा मंत्री मार्क एस्पर के साथ जल्द ही नई दिल्ली आएंगे। विदेश विभाग के स्टीफन बेजगन बैठक की तैयारी के लिए अगले सप्ताह भारत की यात्रा पर आएंगे। दुनिया के दो सबसे बड़े लोकतंत्र के बीच वार्षिक वार्ता ऐसे समय पर होगी जब वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर भारत और चीन के बीच गतिरोध जारी है।

 

Right Click Disabled!