‘बाबा का ढाबा’ : करन आनंद ने कहा कि सोशल मीडिया का पॉजिटिव साइड अभी भी मौजूद है !

‘बाबा का ढाबा’ : करन आनंद ने कहा कि सोशल मीडिया का पॉजिटिव साइड अभी भी मौजूद है !
Spread the love

सोशल मीडिया को लेकर हमेशा से राय दो वर्गो में विभाजित होती है लेकिन यह मंच जरूरतमंदों के जीवन को भी बदल देने की ताकत रखता है। दिल्ली के मालवीय नगर इलाके में सड़क के किनारे एक ढाबा चलाने वाले एक बुजुर्ग दंपति को सोशल मीडिया ने मुस्कुराने की वजह दी। दरअसल, ट्विटर पर एक वीडियो वायरल हो रहा था, जिसमें ‘बाबा का ढाबा’ चलाने वाले बुजुर्ग दंपत्ति रो रहे थे क्योंकि वे कमाई नहीं कर पा रहे थे। कई बॉलीवुड हस्तियों ने भी वीडियो साझा करके उनकी मदद की अपील की। बॉलीवुड एक्टर करन आनंद ने भी सोशल मीडिया के इस पॉजिटिव साइड की प्रशंसा की।

करन आनंद ने कहा ” हमने हमेशा से ही सोशल मीडिया के नेगेटिव साइड की बात की है ,कभी इसका पॉजिटिव साइड देखने की कोशिश ही नहीं की। लेकिन कई बार यह मंच किसी गरीब , ज़रूरतमंद की पूरी दुनिया ही बदल देता है। जिसका साक्षात् उदाहरण दिल्ली के मालवीय नगर इलाके में सड़क के किनारे ढाबा चलाने वाले एक बुजुर्ग दंपति के चेहरे की मुस्कराहट से साफ झलकता है। जी हां ,’ बाबा का ढाबा’ नाम से फेमस हुए बुजुर्ग दंपति की ख़ुशी सोशल मीडिया की ही देन है। इसलिए मैं यह कहना चाहूंगा कि किसी सुविधा या टेक्नोलॉजी का उपयोग किस तरह पॉजिटिव तरीके से करना है , यह हमारे दिमाग और धारणा पर निर्भर करता है। ”

अभिनेता करन आनंद ने ,’गुंडे’ , ‘किक’ , ‘कैलेंडर गर्ल्स’, ‘बेबी’ जैसे कई बॉलीवुड फिल्म्स में काम करके अपनी पहचान बनाई हैं। असल में उन्हें पहचान फ़िल्म ‘बेबी’ में निभाए गए उनके किरदार से मिली। उन्होंने मधुर भंडारकर की फ़िल्म ‘कैलेंडर गर्ल्स’ में कैमियो रोल भी किया था। जिसके बाद उन्होंने ‘लुप्त ‘ में प्रमुख किरदार निभाया, जिसे काफी पसंद किया गया। 2019 में आई फिल्म ‘रंगीला राजा’ में युवराज के किरदार को प्रसंशको का काफी प्यार मिला। और बहुत जल्द लॉकडाउन के ख़त्म होते ही वे अपनी आने वाली योजनाओं की घोषणा करेंगे। हाल ही में ,उन्होंने लॉकडाउन पर आधारित फिल्म ‘इट्स ओवर’ की शूटिंग पूरी की, जो जल्द ही रिलीज होगी।

Karan_Aanand_11.jpeg

Right Click Disabled!