छह माह से बंद पड़ी डोप सैंपलिंग

छह माह से बंद पड़ी डोप सैंपलिंग
Spread the love

टोक्यो ओलंपिक की तैयारियों के कैंप शुरू हो चुके हैं और अगले माह से विदेशी टूर्नामेंटों के लिए भारतीय खिलाड़ी खेलने के लिए भी रवाना हो रहे हैं। बावजूद इसके नाडा की ओर से अब तक डोप सैंपलिंग शुरू नहीं की गई है। इसका बड़ा कारण सैंपलिंग के लिए नाडा की ओर से तैयार मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) को मंजूरी नहीं मिलना है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने नाडा की एसओपी को अब तक हरी झंडी नहीं प्रदान की है, जिसके चलते नाडा ने डोप सैंपलिंग नहीं शुरू की है।

सूत्र बताते हैं कि नाडा को एसओपी भेजे हुए एक माह का समय हो गया है, लेकिन अब तक इसे मंजूरी नहीं मिली है। जब तक एसओपी को स्वास्थ्य मंत्रालय की मंजूरी नहीं मिलती है तब कोरोना के दौर में सैंपलिंग शुरू नहीं की जा सकती है। इस वक्त ओलंपिक की तैयारियों के कैंप में एनआईएस पटियाला, बंगलूरू, सोनीपत में चल रहे हैं। इन कैंपों में ओलंपिक खेलने के दावेदार तैयारियो में जुटे हैं। नाडा के एजेंडे में इन खिलाड़ियों की सैंपलिंग सबसे ऊपर थी, लेकिन कोरोना के चलते 18 मार्च के बाद से नाडा ने किसी भी खिलाड़ी का डोप सैंपल नहीं लिया है।

 

Right Click Disabled!