बिहार में चुनाव तीन चरणों में सिमटा

बिहार में चुनाव तीन चरणों में सिमटा
Spread the love

बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा करते हुए मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा, कोरोना महामारी के कारण चुनाव का कार्यक्रम काफी छोटा रखा गया है। पूरी चुनावी प्रक्रिया 41 दिन में खत्म हो जाएगी। अमूमन पांच चरणों में होना वाले चुनावों को तीन चरणों में समेटा गया है। अरोड़ा ने कहा, हाल में हुए राज्यसभा चुनावों ने बिहार जैसे बड़े राज्य में चुनाव कराने का हौसला दिया। कोरोना प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए इस बार 62.96 फीसदी ज्यादा मतदान केंद्र बनाए  गए हैं। प्रत्येक पोलिंग स्टेशन पर मतदाताओं की संख्या 1500 से घटाकर 1000 की गई है, लिहाजा पिछली बार जहां 65,367 मतदान केंद्र थे, वहीं इस बाल 1,06,524 केंद्र बनाए गए हैं।

अरोड़ा ने शुक्रवार को कहा, बिहार के 7.29 करोड़ मतदाताओं में से 1,60,410 सर्विस वोटर हैं। इसमें 3.39 करोड़ महिलाएं और 3.79 करोड़ पुरुष वोटर हैं। कोरोना के कारण 18.87 लाख प्रवासी लौटे हैं।  इसमें 16.6 लाख वोटर हैं इनमें से काफी वोटरों ने पिछले तीन चुनावों से अपने मताधिकार का प्रयोग नहीं किया है। इनमें से 13 लाख का नाम वोट लिस्ट में जोड़ा गया है। बचे हुए लोगों का नाम वोटर लिस्ट में जोड़ा जा रहा है। एक भी मतदाता न छूटे, इसके लिए विशेष एहतियात बरती जा रही है।

 

Right Click Disabled!