बिदिता बाग: ‘बड़े निर्देशकों से ट्यूनिंग के मामले में कच्ची हूं मैंं’

बिदिता बाग: ‘बड़े निर्देशकों से ट्यूनिंग के मामले में कच्ची हूं मैंं’
Spread the love

दो साल पहले रिलीज हुई देश की पहली महिला स्टंट कलाकार रेशमा की बायोपिक ‘शोले गर्ल’ अब भी ओटीटी की अव्वल नंबर फिल्म मानी जाती है। इस फिल्म ने देसी ओटीटी जी5 की तरफ लाखों दर्शकों को आकर्षित किया। तब से लगातार बिदिता डिजिटल दुनिया में टॉप पर बनी हुई हैं। इस बीच उनकी एक फीचर फिल्म का ट्रेलर देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रिलीज किया।

बिदिता बाग:

फसल उगाने में मेहनत तो होती है। गेहूं की बालियां सहलाने का असली सुख उसी किसान को समझ आता है जिसने चार डिग्री तापमान में रात रात भर खेतों को सींचा हो। एक कलाकार के लिए भी संघर्ष का समय ऐसा ही होता है। उसे दिन रात खुद को खपाना होता है। अलग अलग किरदारों के लिए खुद को सींचना होता है। इसके बाद फसल पकने का समय आता है तो अच्छा ही लगता है। मैं शुक्रगुजार हूं उन सभी दर्शकों की जिन्होंने ओटीटी की दुनिया में मुझे इस तरह से स्वीकार किया।

 

Right Click Disabled!