‘बड़े बाबुओं’ की विदेशों में ट्रेनिंग पर पाबंदी जारी रहेगी, कार्मिक मंत्रालय का फैसला

‘बड़े बाबुओं’ की विदेशों में ट्रेनिंग पर पाबंदी जारी रहेगी, कार्मिक मंत्रालय का फैसला
Spread the love

कोरोना महामारी के कारण केंद्र सरकार ने देश के नौकरशाहों की विदेशों में ट्रेनिंग को निलंबित रखने का निर्णय आगे भी जारी रखने का फैसला किया है। नए आदेश तक पूर्व में लिया गया निर्णय कायम रहेगा। कार्मिक मंत्रालय ने पिछले साल जून में कहा था कि वर्ष 2020-21 के दौरान कोविड-19 महामारी फैलने के कारण अफसरों का विदेश में कोई प्रशिक्षण नहीं होगा।

जानकारी के अनुसार, केंद्र सरकार ने निर्णय लिया है कि नौकरशाहों का विदेश में प्रशिक्षण ‘अगले आदेश तक’ स्थगित रहेगा। कार्मिक एवं प्रशिक्षण मंत्रालय (डीओपीटी), कैडर नियंत्रण करने वाले प्राधिकरण (संबंधित मंत्रालयों के) और केंद्रीय प्रशिक्षण संस्थान, नौकरशाहों के लिए संपूर्ण प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत विदेशों में प्रशिक्षण आयोजित करते हैं। मंत्रालय ने जून 2020 के आदेश का जिक्र करते हुए कहा कि सूचित किया जाता है कि कोविड-19 महामारी और इस कारण सुरक्षा मानकों को ध्यान में रखते हुए वित्त वर्ष 2020- 21 के दौरान विदेशों में प्रशिक्षण का आयोजन नहीं किया जाएगा। मंत्रालय ने एक अप्रैल के आदेश में कहा कि इस सिलसिले में सभी कैडर नियंत्रण करने वाले प्राधिकरण और केंद्रीय प्रशिक्षण संस्थानों को सूचित किया जाता है कि अगले आदेश तक विदेशों में प्रशिक्षण का आयोजन नहीं होगा।

Right Click Disabled!