कैप्टन और मोदी सरकार ने लाखों विद्यार्थी व शिक्षा संस्थान किए तबाह : चीमा

कैप्टन और मोदी सरकार ने लाखों विद्यार्थी व शिक्षा संस्थान किए तबाह : चीमा

चंडीगढ़

आम आदमी पार्टी (आप) ने केंद्र की मोदी और राज्य की कांग्रेस सरकार पर लाखों दलित विद्यार्थियों समेत सैंकड़ों सरकारी और गैर-सरकारी कालेजों-यूनिवर्सिटियों और हजारों टीचिंग और नॉन- टीचिंग स्टाफ का भविष्य तबाह करने का आरोप लगाया है। विपक्ष के नेता हरपाल सिंह चीमा और एस.सी. विंग के प्रधान व विधायक मनजीत सिंह बिलासपुर और सह-प्रधान व विधायक कुलवंत सिंह पंडोरी ने कहा कि सैंकड़ों कालेजों और प्रमुख यूनिवर्सिटियों का पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप स्कीम के तहत मिलने वाला 1,700 करोड़ का बकाया केंद्र और रा’य सरकार की तरफ खड़ा है जिसका नुक्सान दलित विद्यार्थियों, शिक्षा संस्थाओं और स्टाफ को उठाना पड़ रहा है।

चीमा ने बताया कि साल 2017-18 में केंद्र सरकार की तरफ से जारी वजीफा राशि का पंजाब सरकार ने अभी तक उपयोग प्रमाण पत्र (यू.सी.) नहीं दिया है जिस कारण साल 2018-19 और 2019-20 का 1,000 करोड़ से अधिक का बकाया है।वहीं, साल 2018-19 में प्रोफैशनल और डिग्री कालेजों और यूनिवर्सिटियों में एक लाख से अधिक दलित विद्यार्थी उ”ा या प्रोफैशनल शिक्षा लेने से वंचित रह गए। यही नहीं, रा’य और केंद्र सरकार के नकारात्मक व्यवहार के कारण ढुड्डीके, गोनियाना, बाघापुराना समेत पंजाब में 50 के करीब प्राइवेट प्रोफैशनल कालेजों को ताला लग गया।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Right Click Disabled!