आज से हर प्रदेश में मोर्चा खोलेगी कांग्रेस

आज से हर प्रदेश में मोर्चा खोलेगी कांग्रेस
Spread the love

पेगासस जासूसी कांड को लेकर केंद्र सरकार को घेरने के लिए कांग्रेस बुधवार को देशभर के हर प्रदेश में मोर्चा खोलेगी। कांग्रेस इस मामले की सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में जांच की मांग को लेकर हर प्रदेश में बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी और बृहस्पतिवार को पार्टी की प्रदेश इकाई राजभवन के बाहर प्रदर्शन करेगी। कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा, पेगासस रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का टेलीफोन भी हैक किया गया। यही नहीं, 2019 के आम चुनाव में भी मोदी सरकार ने जासूसी कराई थी।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री कपिल सिब्बल ने पेगासस जासूसी मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में कराने की मांग की है। साथ ही सरकार से इस पर संसद में श्वेतपत्र जारी कर यह बताने की मांग की कि इसमें इस्राइली स्पाइवेयर का इस्तेमाल हुआ या नहीं।

अपने आवास पर प्रेस कांफ्रेंस में सिब्बल ने गृहमंत्री अमित शाह के उस बयान पर निशाना साधा, जिसमें उन्होंने कहा था, जासूसी का यह आरोप केवल भारत को बदनाम करने के लिए लगाया गया है। सिब्बल ने कहा, देश को बदनाम नहीं किया गया है, बल्कि आपकी सरकार के कृत्यों से सरकार बदनाम हुई है।

पेगासस प्रोजेक्ट गंभीर राष्ट्रीय सुरक्षा की चिंता, सरकार सफाई दे : थरूर
कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने कहा, पेगासस मामला एक गंभीर राष्ट्रीय सुरक्षा की चिंता है और सरकार को इस पर अपना स्पष्टीकरण देना चाहिए। थरूर ने कहा, यह साफ हो चुका है कि भारत में फोन की जांच दरअसल पेगासस की घुसपैठ थी। उन्होंने कहा, यह उत्पाद केवल सरकारों को ही बेची जाती है, तो सवाल उठता है कि किस सरकार को बेचा गया। यदि भारत सरकार कहती है कि उसने नहीं किया, तो किसी और सरकार ने किया। तब तो यह राष्ट्रीय सुरक्षा का और भी गंभीर मामला है।

कर्नाटक में ऑपरेशन ‘कमल’ के जासूसी कनेक्शन का पर्दाफाश
राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, महासचिव केसी वेणुगोपाल, कर्नाटक प्रभारी रणदीप सुरजेवाला, कर्नाटक के नेता सिद्धरमैया, डीके शिवकुमार, लोकसभा में दल के नेता अधीर रंजन चौधरी ने संयुक्त रूप से मोदी सरकार पर हमला बोला।

 

Right Click Disabled!