नए अधिकारी की नियुक्ति से डरा गूगल

नए अधिकारी की नियुक्ति से डरा गूगल
Spread the love

अमेरिकी न्याय विभाग द्वारा स्पर्धारोधी मुकदमों के लिए बनी डिवीजन में नए प्रमुख जॉनेथन कैंटर की तैनाती से गूगल डर गया है। उसने विभाग को पत्र लिखकर उन्हें केंद्र द्वारा की जा रही स्पर्धा रोधी मुकदमों में जांच से हटाने की मांग की है। उल्लेखनीय है कि जॉनेथन को दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल का मुखर आलोचक माना जाता है, यह भी एक वजह रही कि उन्हें डिवीजन का प्रमुख बनाया गया।

जॉनेथन के विभाग को ही गूगल द्वारा ऑनलाइन विज्ञापनों के लाखों करोड़ रुपये के बाजार को अपने एकाधिकार से नियंत्रित करने के आरोपों की जांच सौंपी गई है। अपनी मांग के समर्थन में गूगल ने तर्क रखा कि जॉनेथन ने पूर्व में गूगल के खिलाफ कई मुकदमे लड़े हैं, इसलिए उन्हें गूगल के खिलाफ मुकदमे लड़ रही सरकारी एजेंसी का दायित्व नहीं सौंपना चाहिए। आशंका भी जताई कि वे निष्पक्ष होकर काम नहीं करेंगे।

इससे पहले फेसबुक व अमेजन ने भी ऐसी ही वजहें बताते हुए केंद्रीय व्यापार आयोग में लीना खान और राष्ट्रीय आर्थिक परिषद में तकनीक व प्रतियोगिता नीति के लिए टिम वू की नियुक्ति पर आपत्ति जताई थी। इन सभी अधिकारियों की नियुक्ति को अमेरिका में तकनीकी कंपनियों की मनमानी पर लगाम लगाने के सरकारी प्रयासों की शुरुआत माना जा रहा है।

 

Advertisement
Right Click Disabled!